Farhan Akhtar | Socha hai lyrics in English | Rock On

Socha hai lyrics in English

Socha hai lyrics in English this ultimate energetic track from Movies “Rock On” stars Arjun Rampal, Farhan Akhtar, Prachi Desai, Purab Kohli and Koel Puri. Beautifully shot in picturesque locations, Right for this video and lyrics is provided by Studio – Tseries Music. The song is sung by Farhan Akhtar. music is given by Shankar Mahadevan, Ehsaan Noorani, Loy Mendonca Here you get Lyrics in both fonts English and Hindi.

Socha hai lyrics in English

Song credits

Singer – Farhan Akhtar
Lyricist – Javed Akhtar
Music Director – Shankar Mahadevan, Ehsaan Noorani, Loy Mendonca

Socha hai lyrics in English

Aasmaan Hai Nila Kyun,
Paani Gila Gila Kyun
Gol Kyon Hai Jameen
Silk Mein Hai Narmi Kyun,
Aag Mein Hai Garmi Kyun
Do Aur Do Paanch Kyun Nahi
Ped Ho Gaye Kam Kyun,
Tin Hai Yeh Mausam Kyun
Chaand Do Kyun Nahi
Duniya Mein Hai Jung Kyun,
Behata Laal Rang Kyun
Sarhadein Hai Kyun Har Kahin

Socha Hai, Yeh Tumne Kya Kabhi
Socha Hai, Ki Hai Yeh Kya Sabhi
Socha Hai, Socha Nahi Toh Socho Abhi

Behati Kyun Hay Har Nadi,
Hoti Kya Hai Roshani
Barf Girati Hai Kyun
Dost Kyun Hai Ruthate
Taare Kyun Hai Tutate
Baadalon Mein Bijali Hai Kyun

Socha Hai, Yeh Tumne Kya Kabhi
Socha Hai, Ki Hai Yeh Kya Sabhi
Socha Hai, Socha Nahi Toh Socho Abhi

Sannata Sunayi Nahi Deta,
Aur Hawaaye Dikhaayi Nahi Deti
Socha Hai Kya Kabhi,
Hota Hai Yeh Kyun

Aasmaan Hai Nila Kyun,
Paani Gila Gila Kyun
Gol Kyon Hai Jameen
Silk Mein Hai Narmi Kyun,
Aag Mein Hai Garmi Kyun
Do Aur Do Paanch Kyun Nahi
Ped Ho Gaye Kam Kyun,
Tin Hai Yeh Mausam Kyun
Chaand Do Kyun Nahi
Duniya Mein Hai Jung Kyun,
Behata Laal Rang Kyun
Sarhadein Hai Kyun Har Kahin

socha Hai, Yeh Tumne Kya Kabhi
Socha Hai, Ki Hai Yeh Kya Sabhi
Socha Hai, Socha Nahi Toh Socho Abhi

socha Hai, Yeh Tumne Kya Kabhi
Socha Hai, Ki Hai Yeh Kya Sabhi
Socha Hai, Socha Nahi Toh Socho Abhi

Socha hai lyrics in Hindi

आसमां है नीला क्यूँ
पानी गिला गिला क्यूँ
गोल क्यों है ज़मीन
सिल्क में है नरमी क्यूँ
आग में है गर्मी क्यूँ
दो और दो पाँच क्यों नहीं

पेड़ हो गए कम क्यों
तीन है ये मौसम क्यूँ
चाँद दो क्यूँ नहीं

दुनिया में है ज़ंग क्यूँ
बहता लाल रंग क्यूँ
सरहदें है क्यूँ हर कहीं
सोचा है.. ये तुमने क्या कभी
सोचा है.. की है ये क्या सभी
सोचा है.. सोचा नही तो सोचो अभी

बहती क्यूँ है हर नदी
होती क्या है रोशनी
बर्फ गिरती है क्यूँ
लड़ते क्यूँ हैं रुठते तारे क्यूँ हैं टूटते
बादलों में बिजली है क्यूँ
सोचा है.. ये तुमने क्या कभी
सोचा है.. की है ये क्या सभी
सोचा है.. सोचा नही तो सोचो अभी

सन्नाटा सुनाई नहीं देता
और हवाएं दिखायी नहीं देती
सोचा है क्या कभी, होता है ये क्यूँ

आसमां है नीला क्यूँ
पानी गिला गिला क्यूँ
गोल क्यों है ज़मीन
सिल्क में है नरमी क्यूँ
आग में है गर्मी क्यूँ
दो और दो पाँच क्यों नहीं

पेड़ हो गए कम क्यों
तीन है ये मौसम क्यूँ
चाँद दो क्यूँ नहीं

दुनिया में है ज़ंग क्यूँ
बहता लाल रंग क्यूँ
सरहदें है क्यूँ हर कहीं
सोचा है.. ये तुमने क्या कभी
सोचा है.. की है ये क्या सभी
सोचा है.. सोचा नही तो सोचो अभी

सोचा है.. ये तुमने क्या कभी
सोचा है.. की है ये क्या सभी
सोचा है.. सोचा नही तो सोचो अभी

For more Lyrics click here

Leave a Reply